ग्राम पंचायत भारौन में डीएम ने लगायी चौपाल, सुनी समस्यायें

विद्युतीकरण की हालत ठीक कराने के दिये निर्देश
ललितपुर। जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह द्वारा रविवार को ब्लॉक बिरधा की
ग्राम पंचायत भारौन में चौपाल का आयोजन किया गया। चौपाल के दौरान
जिलाधिकारी ने उपस्थित ग्राम निवासियों से उनकी समस्याओं के बारे में
जानकारी ली एवं प्रत्येक विभाग द्वारा ग्राम में कराये गये विकास कार्यों
की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान चौपाल में उपस्थित ग्रामवासियों से
योजनाओं के अन्तर्गत कराये गये कार्यों का मौखिक सत्यापन भी कराया गया।
चौपाल में ग्राम भारौन के सम्पर्क मार्ग की हालत खस्ता होने पर
जिलाधिकारी ने नाराजगी जाहिर की और पीडब्ल्युडी के अधिकारी को निर्देश
दिया कि शीघ्र ही इस रोड की मरम्मत की जाये। जिलाधिकारी ने स्वच्छ भारत
मिशन के अन्तर्गत ग्राम भारौन में बनाये जाने वाले शौचालयों की समीक्षा
की। ग्रामवासियों ने ग्राम में विद्युतीकरण की हालत ठीक नहीं होने की
शिकायत की, जिस पर जिलाधिकारी ने हाइडिल के अधिकारी को ग्राम के गरीबी
रेखा से नीचे के निवासियों को मुफ्त विद्युत कनेक्शन देने तथा सहरिया
आदिवासियों के आवासों को अनिवार्य रूप से ऊर्जीकृत करने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी महोदय द्वारा पूछने पर ग्राम भारौन के निवासियों ने अवगत
कराया कि ग्राम पंचायत भारौन में पेयजल की समस्या है, उन्होंने मांग की
कि पिपरई स्थित पेयजल परियोजना से ग्राम भारौन को पेयजल की सप्लाई की
जाये। जिलाधिकारी ने ग्राम वासियों की इस मांग पर गम्भीरता से विचार करते
हुए जल निगम के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे इस समस्या का जल्द से
जल्द समाधान कर जिलाधिकारी को सूचित करें। खण्ड विकास अधिकारी बिरधा ने
जिलाधिकारी महोदय को अवगत कराया कि चौदहवें वित्त आयोग में कुल 16 लाख 55
हजार की धनराशि उपलब्ध हुयी है, इस पर जिलाधिकारी ने सहरिया वाहुल्य
बस्तियों में विकास कार्य कराये जाने के निर्देश दिये। परियोजना निदेशक
ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ग्राम भारौन में कुल 05 आवास
स्वीकृत हैं, जिनमें से दो वित्तीय वर्ष 2016-17 के तथा तीन वित्तीय वर्ष
2017-18 में स्वीकृत हैं। चौपाल में उपस्थित उपायुक्त मनरेगा ने


जिलाधिकारी को अवगत कराया कि ग्राम भारौन में 311 जॉबकार्ड हैं तथा माह
अक्टूबर तक इस ग्राम पंचायत में 2520 कार्य दिवस सृजित किये गये
हैं।चिकित्सा विभाग की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी को यह अवगत हुआ कि
सहरिया जनजाति के कुछ लोगों के असहयोग तथा उनमें फैली तमाम भ्रांतियों के
कारण कई बच्चों का टीकाकरण नहीं हो सका है। जिलाधिकारी ने इसे गम्भीरता
से लेते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी तथा ग्राम प्रधान को निर्देशित किया
कि वे आपसी तालमेल के साथ ग्राम पंचायत भारौन में शत-प्रतिशत टीकाकरण
कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने चौपाल में उपस्थित सहरिया समुदाय के
लोगों से कहा कि टीकाकरण का उद्देश्य गर्भवती महिला तथा बच्चों को
बीमारियों से सुरक्षित करना है। आप बिना किसी बहकावे में आये, बिना किसी
भय के टीकाकरण करायें। टीकाकरण नहीं होने पर बच्चों में विभिन्न रोगों से
लडऩे की क्षमता कम हो जाती है। बाल विकास एवं पोषाहार विभाग द्वारा
जिलाधिकारी को अवगत कराया गया कि ग्राम में 05, 15 और 25 तारीख को बच्चों
तथा धात्री महिलाओं को पोषाहार वितरित किया जाता है तथा नियमित वजन आदि
की जांच भी की जाती है। ग्राम भारौन में 0-3 आयुवर्ग के 60 बच्चे तथा
03-06 वर्ष के 74 बच्चे हैं इसमें से लाल श्रेणी में 14 बच्चे पाये गये,
जिस पर जिलाधिकारी ने जिला कार्यक्रम अधिकारी को अभियान चलाकर इन सभी
बच्चों को पीली श्रेणी तथा हरी श्रेणी में लाने के निर्देशित किया। बेसिक
शिक्षा विभाग द्वारा जिलाधिकारी को अवगत कराया गया कि ग्राम भारौन में
प्राथमिक पाठशाला में कुल 63 छात्र-छात्रायें हैं तथा उच्च प्राथमिक
पाठशाला में 43 छात्र-छात्रायें हैं, जिनमें सभी को दो सेट यूनीफार्म तथा
एक-एक बैग वितरित कर दिये गये हैं। ग्राम वासियों ने जिलाधिकारी को बताया
कि सभी बच्चों को किताबें भी मिल गयी हैं और मिड डे मील भी नियमानुसार
बच्चों को प्राप्त होता है। चौपाल के ही दौरान जिलाधिकारी ने 10 स्कूली
बच्चों को बैग भी वितरित किये। उप निदेशक कृषि द्वारा चौपाल के दौरान
अवगत कराया गया कि ग्राम पंचायत भारौन के 94 प्रतिशत किसानों का पंजीकरण
किया जा चुका है साथ ही इस गांव में मृदा परिक्षण का कार्य भी पूर्ण हो
चुका है। उन्होंने उपस्थित किसानों को बताया कि आप अपनी किसी भी प्रकार
की समस्या व्हाट्स एप नम्बर 9452257111 तथा 9452247111 पर भेजकर व्हाट्स
एप मैसेज के माध्यम से समाधान प्राप्त कर सकते हैं। चौपाल के दौरान समाज
कल्याण अधिकारी ने पारिवारिक लाभ योजना तथा भरण पोषण योजना तथा जिला
प्रोबेशन अधिकारी ने बाल विवाह एवं महिला सम्मान कोष के प्रति उपिस्थत
ग्राम वासियों को जागरूक किया। ग्राम पंयायत भारौन में पारिवारिक लाभ
योजना के 02 लाभार्थी, वृद्धावस्था पेंशन के 02 तथा विकलांग पेंशन के 02
लाभार्थियों को सरकार द्वारा आर्थिक सहायता दी जा रही है। चौपाल के
उपरान्त जिलाधिकारी महोदय ने ग्राम भारौन में प्रधानमंत्री आवासों का
निरीक्षण किया एवं ए0डी0ओ0 पंचायत को निर्देश दिये कि शीघ्र ही निर्माण
कार्यों को पूर्ण कराया जाये। चौपाल के दौरान ग्राम प्रधान भारौन, मुख्य
चिकित्सा अधिकारी डा.प्रताप सिंह, उप जिलाधिकारी पाली नरेन्द्र सिंह,
परियोजना निदेशक डीआरडीए बलिराम वर्मा, बीएसए अम्बरीश कुमार, उपायुक्त
मनरेगा जयसिंह यादव, समाज कल्याण अधिकारी रिंकू सिंह राही, प्रोबेशन
अधिकारी, जिला पूर्ति अधिकारी रामजतन यादव, जिला सूचना अधिकारी पीयूष
चन्द्र राय सहित अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

 

रिपार्ट – अमित लखेरा

4,073 total views, 1 views today

About Amit Soni

Check Also

दुर्घटना में 3 लोग गंभीर रूप से घायल,मेले में चूड़ी बेचने जा रहे लोगों को मोटरसाइकिल ने मारी टक्कर

Share this on WhatsAppललितपुर कोतवाली अंतर्गत ग्राम ककरूआ के पास भीषण एक्सीडेंट हुआ बताया जा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ढाबा पर पुलिस टीम ने छापा मारकर बहला फुसलाकर लाई गई 2 नावालिग लड़कियों को युवको से किया बरामद     |     बार ब्लॉक के ग्राम तुर्का के मजरा कठवर में उल्टी दस्त से एक की मौत, कई बीमार     |     रास्ता भटककर बार के चंदन वन तालाब के पास पहुचे एक सुंदर चीतल की आवारा कुत्तों के हमले में मौत     |     बिजली विभाग के लाइनमैनों को सलाम ,जो हमारी सहूलियत के लिये अपनी जान जोखिम में रखकर काम करते हैं     |     स्वाट टीम और सदर कोतवाली पुलिस ने नावालिग लड़कियों को बंधक बनाकर उनसे जबरन देह व्यापार कराने वाले गैंग का किया खुलासा     |     नगर पंचायत अध्यक्ष पाली पर SDM के साथ अभद्रता करने के आरोप में मुकद्दमा दर्ज, संगीन धाराओ में पाली थाने में किया गया मुकद्दमा दर्ज     |     डायट प्राचार्य के घर चोरों ने बोला धावा , सूने घर को बनाया निशाना     |     मासूम बच्चे के लापता होने के मामले में पुलिस अधीक्षक ने बच्चे की तलाश के लिये 2 टीमों को लगाया     |     शादी समारोह में महिला संगीत के दौरान नशीला पदार्थ पिलाकर महिलाओं के जेवर और पैसे चोरी करने का आरोप     |     फिर एक किसान ने फांसी लगाकर दी जान, आत्महत्त्या का कारण अज्ञात     |    

error: Content is protected !!